उत्तराखंड

एम्स ऋषिकेश में सुरक्षा गार्ड ही निकला चोर

एम्स सुरक्षा पर उठे सवाल

कहीं आप सुरक्षा गार्ड के भरोसे तो नहीं
सुरक्षा एजेंसियां बिना जांच पड़ताल के करती हैं गार्डों की भर्ती
क्योंकि आजकल सुरक्षाकर्मियों पर विश्वास करना ही मुश्किल हो पा रहा है

ताजा मामला ऋषिकेश एम्स का है जिसमें 800000 के लगभग फोटोग्राफी कैमरे और एसेसरी चोरी का मामला प्रकाश में आया है ऋषिकेश एम्स प्रशासन ने एम्स चौकी ऋषिकेश को एक तहरीर में सूचित किया कि इसके अंदर से लगभग आठ लाख के कैमरे चोरी हो गए हैं जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस द्वारा एम्स मैं तैनात सुरक्षाकर्मी भानु पवार पुत्र रतन सिंह को एम्स परिसर से ही सामान के साथ गिरफ्तार किया पूछताछ में सुरक्षाकर्मी ने बताया कि अगले सप्ताह उसकी शादी है और उसकी तनख्वाह कम होने के कारण वह महंगे कैमरे को देख लालच में आ गया जिस कारण उसने इस घटना को अंजाम दिया पुलिस ने विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close