उत्तराखंड

मां काली की पूजा अर्चना कर सुख और समृद्धि की कामना की

पापियों के नाश के लिए हुई थी मां काली की उत्पत्ति: जयेंद्र रमोला

मां काली की पूजा अर्चना कर सुख और समृद्धि की कामना की

ऋषिकेश Rishikesh News : ऋषिकेश के मायाकुंड और चंद्रेश्वर नगर में काली पूजा महोत्सव धूमधाम से मनाया गया. बंगाली समुदाय से जुड़े लोगों व अन्य श्रद्धालुओं ने मां काली की पूजा अर्चना कर सुख, समृद्धि की कामना की.

मां काली की पूजा अर्चना कर सुख और समृद्धि की कामना की   ऋषिकेश Rishikesh News :

मायाकुंड में काली पूजा समिति ने 32 वां पूजा महोत्सव का आयोजन किया. जहां श्रद्धालुओं ने मां काली की पूजा अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की. कार्यक्रम में पहुंचे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य (Member of All India Congress Committee) जयेंद्र रमोला ने कहा कि हिंदू धर्म में मां काली का प्रमुख स्थान है. मां काली की उत्पत्ति “समय” और “काल” से पापियों के नाश के लिए हुई थी. पूरे देश सहित ऋषिकेश में भी बंगाली समुदाय द्वारा काली पूजा पिछले कई वर्षों से भिन्न भिन्न जगहों पर की जाती है. पिछले वर्ष कोरोना माहामरी के बीच लोगो में त्योहारों को मनाने का उत्साह बहुत कम हो गया था, लेकिन अब कोरोना संकट कम होने से पुनः वही उत्साह लौट आ रहा है. कहा कि मां काली देश को कोरोना से मुक्ति दें. सभी देशवाासियों को सुख समृद्धि प्रदान करें.

मां काली की पूजा अर्चना कर सुख और समृद्धि की कामना की   ऋषिकेश Rishikesh News :

इसके बाद उन्होंने चंद्रेश्वर नगर में चल रही काली पूजा महोत्सव में भी शिरकत की. कार्यक्रम में सार्वजनिक काली पूजा समिति मायाकुंड के अध्यक्ष तपन मंडल पूर्व अध्यक्ष धनी राम मंडल, चन्द्रेश्वर नगर काली पूजा समिती के अध्यक्ष मधु मिश्रा, पार्षद पुष्पा मिश्रा, संरक्षक उत्तम दास, सदानंद हलदर, अर्जुन शाह, राजीव बर्थवाल, अजय दास, राजेश शाह, ज्योति हलदर आदि बड़ी संख्या में भक्त गण मोजूद थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close