राष्ट्रीय

तटीय इलाकों से टकरा सकता है चक्रवाती तूफान यास, अलर्ट जारी

पश्चिम बंगाल और ओडिशा में एनडीआरएफ की टीमें तैनात हुई

  • तटीय इलाकों से टकरा सकता है चक्रवाती तूफान यास, अलर्ट जारी
  • पश्चिम बंगाल और ओडिशा में एनडीआरएफ की टीमें तैनात हुई 

26 मई की शाम को चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. ओडिशा सरकार ने चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) के खतरे को देखते हुए तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है.

देश के पूर्वी तटीय क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान तौकते के बाद अब साइक्लोन यास (Cyclone Yaas) का खतरा मंडरा रहा है. बंगाल की खाड़ी में उठने वाला चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) ओडिशा सहित पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में दस्तक दे सकता है. भारतीय मौसम विभाग ने शनिवार 22 मई को बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर बनने और 24 मई तक इसके साइक्लोन में तब्दील होने का संभावना जताई है. मौसम विभाग के मुताबिक साइक्लोन में तबदील होकर ये उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ सकता है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार तूफान यास 22 मई को उत्तरी अंडमान सागर और आसपास की पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. जिसके आगामी दो दिन में धीरे-धीरे चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) में बदलने की आशंका जताई जा रही है.

चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. ओडिशा सरकार ने चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) के

तटीय इलाकों में एनडीआरएफ ने टीमें तैनात की
26 मई की शाम को चक्रवाती तूफान यास पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) के खतरे को देखते हुए ओडिशा सरकार ने तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है. साथ ही इससे निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में  टीमों की तैनाती शुरू कर दी है. एनडीआरएफ महानिदेशक एसएन प्रधान के मुताबिक पश्चिम बंगाल और ओडिशा में संभावित खतरे वाले क्षेत्रों में टीमें तैनात करना शुरू कर दिया गया है. तूफान यास 26 मई को तट से टकरा सकता है.

केंद्र सरकार ने राज्यों को दिए दिशा निर्देश
केंद्र सरकार ने ओडिशा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल और अंडमान निकोबार द्वीप समूह को ये सुनिश्चित करने को कहा है कि स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक दवाओं तथा संसाधनों का स्टॉक रखा जाए. ताकि यास तूफान (Cyclone Yaas) के दौरान किसी भी आपात स्थिति से निपटा जा सके.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close