उत्तराखंड

नुक्कड़ नाटक व पोस्टर के जरिए क्षय रोग के प्रति किया जागरूक

एसआरएचयू ने चलाया टीबी जागरुकता अभियान

रिपोर्टर- अनूप रावत 

हिमालयन हॉस्पिटल में 192 टीबी रोगियों ने लिया स्वास्थ्य परामर्श व जांच

देहरादून ऋषिकेश Rishikesh News : विश्व टीबी दिवस के उपलक्ष्य में हिमालयन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट की ओर से जागरुकता अभियान चलाया गया. कम्यूनिटी मेडिसिन विभाग के छात्र-छात्राओं ने नुक्कड़ नाटिका, पोस्टर प्रदर्शनी, सेमिनार के जरिये टीबी से बचाव व उपचार की लोगों को जागरुक किया.

एसआरएचयू के हिमालयन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के कम्यूनिटी मेडिसिन विभाग की ओर से दो दिवसीय जागरुकता अभियान के तहत जॉलीग्रांट व डोईवाला में लोगों को टीबी के लक्षण, बचाव व उपचार की विस्तृत जानकारी दी. विभागाध्यक्ष डॉ.जयंती सेमवाल ने बताया कि टीबी के नए मरीजों में 60 फीसदी नए मामले भारत सहित चीन, नाइजीरिया, पाकिस्तान, इंडोनेशिया और दक्षिण अफ्रीका में ही पाए गए. दुनियाभर में भारत में ही सबसे अधिक मामले टीबी के सामने आए हैं. मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.एसएल जेठानी ने बताया कि हिमालयन हॉस्पिटल जॉलीग्रांट में डीआर टीबी (ड्रग रेसिस्टेंट) सेंटर स्थापित है. यह उत्तराखंड का एकमात्र डीआर टीबी सेंटर है.

डीन डॉ.मुश्ताक अहमद ने बताया डॉट सेंटर पर टीबी का मुफ्त इलाज किया जाता है. डोईवाला कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर में एमबीबीएस स्टूडेंट्स ने नुक्कड़ नाटिका के जरिए लोगों को टीबी के संबंध में जागरुक किया. हिमालयन हॉस्पिटल में लोगों को टीबी जागरुकता को लेकर पोस्टर प्रदर्शनी भी आयोजित की गई.

एचआईएमस की ओर से सीएमई आयोजित
हिमालयन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के सामुदायिक चिकित्सा विभाग की ओर से विश्व टीबी दिवस के उपलक्ष्य में एक दिवसीय सीएमई का आयोजन किया गया. इसमें विभागाध्यक्ष डॉ.जयंती सेमवाल के नेतृत्व में आयोजित सीएमई के संचालन में डॉ.शैली व्यास, डॉ.सुरत्रि मिश्रा, डॉ.नेहा शर्मा ने सहयोग दिया. मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.एसएल जेठानी, डीन डॉ.मुश्ताक अहमद सहित डॉ.बिंदु अग्रवाल, डॉ.एके श्रीवास्तव, डॉ.डीसी धस्माना, डॉ.देबव्रत रॉय, डॉ.प्रयास शर्मा, डॉ.रंजीता कुमारी, डॉ.डीसी पुनेरा, डॉ.पुनीत ओहरी, डॉ.रुचि दुआ, डॉ.रचित नेगी, डॉ.साधना अवस्थी आदि ने अपने विचार रखे.

शिविर में दूसरे दिन 82 रोगियों ने लिया परामर्श
हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट के श्वास एवं छाती रोग विभाग की ओर से दो दिवसीय टीबी जांच व परामर्श आयोजित किया गया. कुल 192 रोगियों ने स्वास्थय परामर्श लिया. इसमें पहले दिन 110 व दूसरे दिन 82 रोगियों ने शिविर का लाभ उठाया. शिविर में आए रोगियों को एक्स-रे में 50 फीसदी छूट भी दी गई. डॉ.वरुणा जेठानी के नेतृत्व में डॉ.मनोज, डॉ.निशांत, डॉ.कुमार, डॉ.मानवेंद्र ने शिविर में सहयोग दिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close