क्राइम

12 वर्षीय बच्ची का रेप कर शव जलाया, एसएचओ सस्पेंड

12 वर्षीय बच्ची का रेप कर शव जलाया, एसएचओ सस्पेंड

यूपी के हाथरस बलात्कार कांड (Hathras Rape) जैसी ही एक घटना बिहार के पूर्वी चंपारण में घटी है। मामला पूर्वी चंपारण के कुंडवा चैनपुर से जुड़ा हुआ है। जानकारी के मुताबिक यहां एक हफ्ते पहले 12 साल की बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार कर उसकी हत्या (Murder) कर दी गई। लड़की की हत्या करने के बाद बदमाशों ने सबूत मिटाने के लिए मृतक की लाश को रात में ही जला दिया।

मामले में लड़की की लाश को जलाने का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें कुछ लोग लड़की की लाश को जलाते हुए नजर दिख रहे हैं। शव जलाने के दौरान बगल में उसकी मां रोती चिल्लाती दिख रही है। मामले में एसएचओ को निलंबित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि मृत लड़की की लाश रात में कुंडवा चैनपुर-परसा राजमार्ग (Kundwa Chainpur-Parsa Highway) पर सड़क के किनारे जला दी गई थी।

बच्ची के शरीर को जलाने के लिए लकड़ी, केरोसिन, चीनी और नमक का इस्तेमाल किया गया, ताकि कोई सबूत न रह जाए। शव को जलाने के लिए समर्पित लोगों को गैलन से आग में केरोसिन डालते हुए देखा जाता है, जबकि एक महिला का रोना सुना जाता है, जिसे उसकी मां की आवाज बताई जा रही है। मृतक के पिता ने पुलिस से अनुरोध में भी उसका उल्लेख किया है।

घटना की जांच के लिए एसपी नवीन चंद्र झा कुंडवा चैनपुर थाने पहुंचे। वहां एसपी ने घटनास्थल का दौरा किया और पुलिस अधिकारियों से घटना के बारे में विभिन्न बिंदुओं की जानकारी ली। एसपी ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं। एसपी नवीन चंद्र झा ने इस घटना में थाने के प्रमुख की भूमिका को लेकर उठे सवालों की पड़ताल भी की। इस दौरान बचाव पक्ष के महिला रिश्तेदार एसपी के घर पहुंचे।

महिलाओं ने भूमि विवाद से जुड़े इस मामले में अपने घर के लोगों को पकड़ने की बात कही। एसपी ने आरोपी की महिला परिवार को बचाव में बयान देने और लिखित में अपनी बात व्यक्त करने को कहा। कुंडवा चैनपुर जिले के थाना क्षेत्र के कुंडवा बाजार में 12 साल से कम उम्र की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गई। आरोप है कि बचाव पक्ष ने पुलिस स्टेशन के साथ मुलाकात की और लड़की के शरीर को जला दिया।

इसके बाद, एसपी ने एसएचओ संजीव रंजन को निलंबित कर दिया और घटना की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी ने एफएसएल टीम को तलब किया है। एसपी ने कहा कि एफएसएल टीम वैज्ञानिक तरीके से मामले की जांच करेगी। परीक्षण दल प्रत्येक बलात्कार और हत्या से एक बिंदु एकत्र करेगा और फिर शरीर को जला देगा।

मृत लड़की के परिजनों को प्रतिवादियों ने डराया
मृत लड़की के माता-पिता को प्रतिवादियों ने डराया और चुप कराया, लेकिन घटना के लगभग एक हफ्ते बाद, मृत लड़की के पिता ने सिकरहना एसडीपीओ को एक आवेदन सौंपा और प्राथमिकी दर्ज की जिसके बाद मामला प्रकाश में आया। इस बीच, कुंडवा चैनपुर संजीव रंजन पुलिस स्टेशन और बचाव पक्ष के बीच लड़की के शरीर के ठिकाने के बारे में एक बातचीत वायरल हुई।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close